क्या सोते समय ब्रा पहनना चाहिए?| 7 reasons you should not wear a bra at bed time In hindi?-poojafitdiva

क्या सोते समय ब्रा पहनना चाहिए?-रात में ब्रा पहनकर सोने या उतारकर सोने को लेकर महिलाओं के अलग तर्क हैं. कोई ब्रा पहनकर सोना पसंद करता है. इसके पीछे कुछ महिलाओं का तरह होता है कि इससे उनके ब्रेस्ट सैगी नहीं होते हैं. वहीं कुछ महिलाएं रात में सोते वक्त ब्रा उतारकर सोना पसंद करती हैं.

क्या सोते समय ब्रा पहनना चाहिए?

रात में ब्रा पहनकर सोने से ब्रेस्ट पर कई तरीकों से प्रभाव पड़ता है.

रक्त प्रवाह पर पड़ता है असर:

आजकल महिलायें अंडरवायर ब्रा पहनना काफी पसंद कर रही हैं. ये ब्रा खून के दौरे पर असर डालती हैं. वायर की वजह से ब्रेस्ट एरिया के आसपास की मसल्स काफी सिकुड़ जाती हैं और इससे नर्वस सिस्टम को भी नुकसान पहुंचता है. वहीं अगर कोई बहुत टाइट ब्रा पहनती हैं तो यह ब्रेस्ट के टिश्यू को नुकसान पहुंचता है. इसीलिए रात में सोने जाने से पहले ब्रा उतारने की सलाह दी जाती है.

स्किन में खुजली हो सकती है:

इस बात की भी संभावना होती है कि अगर आप रात में ब्रा पहनकर सोते हैं तो इससे हुक और स्ट्रैप आपकी त्वचा में धंस सकते हैं या नुकसान पहुंचा सकते हैं. इससे स्किन में खुजली की भी समस्या हो सकती है. अगर आप लंबे समय तक ब्रा पहने रहती हैं तो ब्रेस्ट में गांठ बनने की संभावना भी हो सकती है. जब असहज महसूस हो तुरंत ब्रा को निकाल फेंकें.

नींद में पड़ता है खलल:

रात में ब्रा पहनकर सोने से काफी असहज महसूस होता है. इससे आपकी नींद भी प्रभावित होती है.

फंगल इन्फेक्शन हो सकता है:

रात में ब्रा पहनकर सोने से ब्रेस्ट के आसपास के एरिया में नमी जमा होने के कारण फंगल इन्फेक्शन हो सकता है. रात के समय ब्रा न पहनकर सोने से ब्रेस्ट को आराम मिलता है.

हो सकते हैं काले निशान:

दिनभर अधिक टाइट ब्रा पहनने से स्किन पर रैशेज हो सकते हैं खासकर गर्मी के मौसम में। इससे धीरे-धीरे काले धब्बों में बदल जाते हैं।(क्या सोते समय ब्रा पहनना चाहिए?)

सूजन:

यदि आप नियमित तौर पर टाइट ब्रा का उपयोग करते हैं तो इसके कारण लसिका रूकावट की समस्या आ सकती है। इसके कारण इस रूकावट से जुड़ी हुई अन्य समस्याएं भी आ सकती हैं। इसमें सूजन या स्तन में द्रव पदार्थ का जमा होना आदि समस्या हो सकती है। सोते समय ब्रा पहनने का यह एक गंभीर दुष्परिणाम हो सकता है।

पसीना :


सोते समय ब्रा पहनने से, विशेष रूप से गर्मियों में आपको अधिक पसीना आता है। इस मामले में सामान्यत: फैंसी ब्रा ज़िम्मेदार होती हैं। सिंथेटिक कपड़े जैसे पॉलिएस्टर या लिनेन से बनी ब्रा के स्थान पर कॉटन से बनी ब्रा पहनें।(क्या सोते समय ब्रा पहनना चाहिए?)

जानते हैं कुछ और कारण कि आपको ब्रा पहन कर सोना चाहिए या नहीं!

महिलाओं को अच्छे या बुरे के आधार पर नहीं बल्कि अपनी सुविधा और आराम के हिसाब से रात में ब्रा पहनने या न पहनने का निर्णय लेना चाहिए। रात में सोते समय ब्रा पहनने या न पहनने का कारण हर महिला में अलग-अलग हो सकता है। आइये जानते हैं कि रात में सोते समय किन परिस्थितयों में ब्रा पहनना चाहिए और नहीं पहनना चाहिए।

स्पोर्ट्स खेलने वाली और कामकाजी महिलाएं पूरे दिन काफी टाइट ब्रा पहने रहती हैं जिसके कारण रात में उनके स्तन को आराम की जरूरत होती है। यदि आप एक ऐसी ही महिला हैं तो आपको रात में आपको स्तन खुले छोड़े देना चाहिए यानि बिना ब्रा पहने सोना चाहिए।(क्या सोते समय ब्रा पहनना चाहिए?)

यदि आपके स्तन काफी बड़े हैं तो आपको रात में ब्रा पहनकर सोना चाहिए अन्यथा आपके स्तन समय से पहले ही लटक सकते हैं।

अगर आप रात में ब्रा पहनकर होना पसंद करती हैं तो वायरलेस ब्रा या स्पोर्ट्स ब्रा पहनें। यह शरीर को उसी तरह आराम देता है जैसे रात में ढीले कपड़े या गाउन पहनने पर आराम मिलता है।

यदि आप बच्चे को स्तनपान कराने वाली महिला हैं और आपके स्तन से दूध लीक होता है तो आपको रात में ब्रा पहनकर ही सोना चाहिए।(क्या सोते समय ब्रा पहनना चाहिए?)

माना जाता है कि रात में बिना ब्रा पहने सोने से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है, इस फायदे के लिए आप बिना ब्रा पहने सो सकती हैं।

रात को बिना ब्रा के सोने के फायदे –

वैसे तो रात में सोते समय ब्रा पहनने या न पहनने के पीछे अलग-अलग लोगों की अलग-अलग धारणाएं हैं। लेकिन यदि वैज्ञानिक दृष्टि से देखा जाए तो स्तनों के दबाव को कम करने और उन्हें राहत प्रदान करने के लिए बिना ब्रा के सोना ही फायदेमंद होता है।

रात को बिना ब्रा के सोने के फायदे त्वचा में खुजली नहीं होती.

पूरे दिन के क्रियाकलापों के बाद शरीर से पसीना निकलता है। रात को ब्रा निकालकर सोने पर पसीने से गीले ब्रा के कारण स्तन में खुजली और जलन नहीं होती है। कुछ महिलाओं में खुजली के कारण स्तन के ऊपर दाने निकल आते हैं और स्तन की त्वचा लाल भी पड़ जाती है। यदि आप रात में बिना ब्रा पहने सोती हैं तो आपको इन समस्याओं को सामना नहीं करना पड़ेगा और आपको नींद भी अच्छी आयेगी।

बिना ब्रा के सोने के फायदे श्वसन की समस्या नहीं होती

ब्रा महिलाओं के सीने पर अधिक दबाव डालता है जिसके कारण डायफ्राम में गड़बड़ी हो जाती है जिसके कारण सांस लेने में कठिनाई होने लगती है। इसलिए रात में ब्रा निकालकर सोने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आप आराम से सो सकती हैं और आपको श्वसन संबंधी परेशानी भी नहीं होगी।(क्या सोते समय ब्रा पहनना चाहिए?)

रात का टाइट ब्रा पहनकर सोने से सीने के आसपास सही तरीके से हलचल नहीं हो पाती है आप रात को अच्‍छे से सांस नहीं ले पाते हो। इस वजह से आपकी बॉडी सही से रेस्‍ट नहीं कर पाती है। रात को जब आपकी सोते है तो आपका शरीर अगले दिन के लिए तैयार होता है और अगर शरीर को सही तरीके से ऑक्‍सीजन की पूर्ति नहीं हो पाएगी तो इसका असर आपके बालों और चेहरें पर पड़ेगा

रात में ब्रा उतारकर सोने से स्तन का आकार सुंदर होता है

एक स्टडी में पाया गया है कि रात को ब्रा निकालकर सोने पर ग्रोथ हार्मोन (growth hormone) अच्छी तरह से कार्य करते हैं जिसके कारण सीने की मांसपेशियां मजबूत होती हैं और स्तन का विकास बेहतर तरीके से होता है। कुछ महिलाओं का मानना है कि रात को ब्रा निकालकर सोने पर स्तन का आकार बेहतर होता है। डॉक्टरों का मानना है कि मासिक धर्म शुरू हो जाने के बाद लड़कियों को भी रात में ब्रा उतारकर सोना फायदेमंद होता है, इससे उनके स्तन का आकार आकर्षक होता है।

1 thought on “क्या सोते समय ब्रा पहनना चाहिए?| 7 reasons you should not wear a bra at bed time In hindi?-poojafitdiva”

Leave a Comment